Jis din soya rashtra jagega | जिस दिन सोया राष्ट्र जगेगा

1131
jis din soya rashtra jagega

Jis din soya rashtra jagega | जिस दिन सोया राष्ट्र जगेगा


जिस दिन सोया राष्ट्र जगेगा ,
दिस – दिस फैला तमस हटेगा।।-२

भारत विश्व बंधु का गायक
भारत मानवता का नायक
सदियों से था , युगों रहेगा ,
दिस – दिस फैला तमस हटेगा।
जिस दिन सोया राष्ट्र जगेगा
दिस – दिस फैला तमस हटेगा। ।।

वैभवशाली जब हम होंगे ,
नहीं किसी से हम कम होंगे
क्यों ना फिर गंतव्य मिलेगा ,
दिस – दिस फैला तमस हटेगा ।
जिस दिन सोया राष्ट्र जगेगा ,
दिस – दिस फैला तमस हटेगा ।।

हम सबकी तो राह एक है ,
कोटि हृदय और भाव एक हैं ,
बात हमारी विश्व सुनेगा ,
दिस – दिस फैला तमस हटेगा ।
जिस दिन सोया राष्ट्र जगेगा ,
दिस – दिस फैला तमस हटेगा ।।


 Jis din soya rashtra jagega | जिस दिन सोया राष्ट्र जगेगा


मित्रों आपको यह गीत कैसा लगा हमें कमेंट करके अवश्य बताएं. और हमसे जुड़े रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को जरूर लाइक करें एवं ट्विटर पर फॉलो करें 🙂

–> अटल बिहारी वाजपेयी: काल के कपाल पे लिखता मिटाता हूं.. गीत नया गाता हूं’

–> पंद्रह अगस्त का दिन कहता – आज़ादी अभी अधूरी है।

–> मस्तक नहीं झुकने दूंगा

–> दूध में दरार पड़ गई.

–> मनाली मत जइयो

Leave a Reply